Top 2 Best Knowledge Short Story in Hindi

 Best Knowledge Short Story in Hindi | Rochak Kahaniya

 Top 2 Best Knowledge Short Story in Hindi | नमस्कार दोस्तों आज मैं कोई कहानी नहीं सुनाने वाली हूँ बल्कि आप सबको एक राज़ के बारे मैं बताने जा रही हूँ जो हम सबको पता है। 

लेकिन फिर भी हम ऐसे बताते है की हमे कुछ पता ही नहीं। पर सच तो कुछ और ही हैं। 

यह जो मैं आपको बताने जा रही हूँ। 
 
यह मैंने खुद भी अपनाया है और इससे मैं बहुत खुश हूँ की यह बात मुझे कितने जल्दी समज मैं आएगी हा जितना आप सच से दूर भागेंगे वो उतना ही आपके पीछे पीछे आता चला जायेगा। 

ये सच है तो कड़वा पर है एकदम सच हम जानते है की success का मार्ग कैसा होता है। 

हैं तो मुश्किल लेकिन आगे बहुत सुनेहरा दृश्य देखने को मिलता है पर हर इंसान मैं इतना साहस कहा की वो आलस का दामन छोड़ कर परिश्रम का हाथ थम ले। 
 
चालिए बिना पहेलियाँ भुजाये यह गोपनीय बात आपको बताती हूँ। 


Shuruwaat:

( Top 2 Best Knowledge Short Story in Hindi) add this keyword 8 time! and some eng words

1. खुद से प्रेम (Self-love Inspirational Hindi Best Knowledge Story)  

best-knowledge-short-story
Best Knowledge Short Story in Hindi
चित्र स्तोत्र: Shutterstock


Life एक मूल्यवान चीज हैं जो हमे ऊपरवाले ने दिया है।
पर क्या हम इसका use ठीक तरीके से कर रहे है? यह सवाल मैं आपसे पूछती हूँ।
 यह Life का आप अच्छे से use कर रहे है यह फिर ऐसे ही इसे waste कर रहे हैं?
यह हम सबको पता है की हम कोई video game नहीं खेल रहे जिसमे हमे तीन lifes मिलेंगी लेकिन फिर भी हम ऐसे जीते है जैसे की हम अमर हो।
जबकि सच हम सब जानते है, की हमारे दिन गिने जा सकते है।
सबसे बुरी बात तो मुझे यह लगती है की लोग कहते है की मेरे लिए किसी ने कुछ भी नहीं किया।  
दोस्तों मुझे एक बात बताओ जब हम अंग्रेज़ो की गुलामी कर रहे थे तब जो हमारे देश के वीर पुरष और औरते थी। 
जैसे की भगत सिंह, चद्रशेकर आज़ाद, रानी लक्समी बाई, और न जाने कितने और वो लोग किसके लिए लड़ रहे थे। 
अपनी जमीन, जायदाद के लिए की हमारे लिए? 
लेकिन वे यह सोचते थे की हमने जो झेला वो आने वाली पीढ़ी को न झेलना पढ़े। 
और हम छोटी-छोटी बात पर क्या कुछ नहीं कर बेठते है।
हां मैं यह जानती हूँ की हम सबका जीवन अलग होता है और मुश्किलें भी अलग-अलग होती हैं।
 लेकिन दोस्तों इसका मतलब यह तो नहीं की हम सही तरीके से Life को जीना ही छोड़ दे। 
मेरे भी जीवन मैं काफी सारी तकलीफे थी है और आगे भी आएँगी यह मैं अच्छे तरीके से जानती हूँ क्योकि इनके बिना जीवन जीना क्या?
प्रेम का अभ्यास करें सबसे सफल और meaningful life का सुनहरा राज़ हैं self-discipline।  
DISCIPLINE आपको उन सभी चीजों को करने मैं आपकी HELP करता हैं। जो अपने काफी समय से सोच रखा हैं लेकिन आपका करने का मन नहीं कार्य है।
Self-discipline के बिना, आप clear goal तय नहीं कर सकते । 
जब आप अपने समय को अच्छे ढंग से use करेंगे, लोगों के साथ अच्छा व्यवहार करेंगे, मुश्किल समय में डटे रहेंगे।
अपनी Health की देखभाल करेंगे और positive thoughts सोचेंगे तब आप ज़रूर successful हो पाएंगे।
मैं Self-discipline की आदत को “टफ लव” यानी की ‘कठिन प्रेम’ कहती हूं क्योंकि खुद के साथ कठिन हो जाना सच में एक बोहोत ही अच्छी बात हैं।  
अपने आप के साथ सख्त होकर, आप जीवन और भी अच्छे से जीना शुरू कर देंगे।


Credit: Solution for Life Problems

(ये video जरूर देखिएगा Best Knowledge in Hindi) 


सीख (Moral): 

आलस का दमन छोड़ कर परिश्रम का हाथ थम लो। 




2. झूठे वादे झूठा आने वाला कल ! (Fake Promises Fake Tomorrow’s) Best Knowledge

best-knowledge-short-story
Best Knowledge Short Story in Hindi
चित्र स्तोत्र: Shutterstock

जैसा कि मैंने अपने एक कहानी में लिखा है, आप जितना मुश्किलों का सामने करने के लिए खुद को motivate करेंगे, उतना आसान आपकी Life होते जाएगी।

आपके जीवन की qualities इतनी हैं कि मैं आपको बता नहीं सकती आपके options और decisions की Qualities से आपकी life को आकार मिलता लेती हैं ।

जिसे हम english मैं career कहते हैं । 

 अपने जो किताबे पढ़ी हैं उन्हें analayse करने का समय निकाल लिए, जिस समय आप रोज सुबह उठते हैं तब अपने दिमाग में Positive Affirmations बोलिए ।

और वो विचार आप अपने दिनों के घंटों के दौरान बीच- बीच मैं सोचते रहिए।  

जब आप लगातार अपनी इच्छा शक्ति को उन options को बनाते हुए focus करते हैं जिन्हें आप जानते हैं कि वे सही हैं (दूसरे लोगों के बजाय), तो आप अपने जीवन पर control पा पाते हैं।

Highly Influencive लोग अपना समय ऐसा करने में नहीं लगाते जो सबसे comfortable और आरामदायक हो। 

 उनमें अपने दिल की सुनने और समझदारी से काम लेने की हिम्मत है।  यही आदत उन्हें महान बनाती है।

निबंधकार और विचारक E. M. Grey ने कहा,

“सफल व्यक्ति को उन चीजों को करने की आदत होती है जो असफल लोगों को पसंद नहीं होती हैं।”  

“Successful लोग भी मेहनत करना पसंद नहीं करते हैं। लेकिन उनकी नापसंदगी उनके Goal की ताकत के सामने बोहोत छोटी है।”  

उन्नीसवीं सदी के अंग्रेजी लेखक Thomas Henry Huxley एक समान निष्कर्ष पर पहुंचे, यह देखते हुए:

“शायद सभी शिक्षा का सबसे मूल्यवान परिणाम यह है कि आप अपने आप को वह काम करने की क्षमता दें जो आपको करना है, जब यह किया जाना चाहिए, चाहे आप इसे पसंद करें या नहीं। ”  

और Aristotle ने ज्ञान के इस बिंदु को एक और तरीके से बनाया हैं: “हम जो कुछ भी करना सीखते हैं, हम असल में इसे करके सीखते हैं:

उसी तरह, सिर्फ काम करके हमें हार नहीं माननी चाहिए;  हमारे अपने ऊपर और अपने काम पर पूरा नियंत्रित होना चाहिए, इससे हम आत्म-नियंत्रित होते हैं;  और वीरतापूर्ण कार्य करने से हम बहादुर बनते हैं। ”

कहानी की शुरुवात: 

हम ऐसे समय में रहते हैं जब लोग अपने शब्दों को हल्के में लेते हैं।  

हम एक दोस्त को बताते हैं कि हम अगले हफ्ते उसे दोपहर को 
खाना खाने के लिए बुलाएंगे, यह जानते हुए कि हमारे पास ऐसा करने का TIME नहीं है।
हम अपने साथ काम करने वाले से वादा करते हैं कि हम उस party देंगे । और फिर क्या हम अपने वादा तोड देते देते हैं। आज के Time मैं लोग वादा ही तोड़ने के लिए करते हैं।
और हम खुद से वादा करते हैं कि यही वह साल होगा जब हम अपनी सेहत पर ध्यान देंगे, अपने जीवन को अच्छा बनाएंगे। 
और इन लक्ष्यों को पाने के लिए जीवन में गहरे बदलाव लाना ज़रूरी हैं।
और अगर हम ऐसा किसी सच्चे इरादे के बिना करते हैं, तब तो पूछिए है मत; बिना मज़बूत इरादो के इंसान कुछ भी नहीं कर सकता हैं।
जब हम लंबे समय तक ऐसा करते हैं, तो ऐसी चीजें कहना जो असल में मतलब की नहीं है, एक आदत बन जाती है। 
असली समस्या यह है कि जब आप अपना वादे की गरिमा नहीं रखते हैं, तो आप विश्वास खो देते हैं।
जब आप लोगो का विश्वास खो देते हैं, तब रिश्ता भी बिखरने लगता है।
विश्वाएकोके बंधन को तोड़ने के कारण अंततः टूटे हुए रिश्तों का एक तार हो जाता है। एक ईमानदार दर्शन विकसित करने के लिए,  की निगरानी करना शुरू करें। 

Credit: Kriti Educational Videos

एक सप्ताह के दौरान आप कितने झूठ बोलते हैैं? 

अगले सात दिनों के लिए हम सच बोलने की कोशिश करिए।
और दूसरों के साथ और अपने सभी व्यवहारों में पूरी तरह से ईमानदार होने की कोशिश करें। 
हर बार आप सही काम करने में असफल होते हैं। तब आप गलत काम करने की आदत को बढ़ावा देते हैं।  
हर बार जब आप सच नहीं कहते हैं, तो आप जूठे होने की आदत डालते हैं।  जब आप किसी से वादा करते हैं कि आप कुछ करेंगे, तो करें।

“बाते करें और कुछ ना करे” होने के बजाय अपने शब्द को जीवन दे, उन्हें निभाए। जैसा कि Mother Teressa ने कहा, “कम बात होनी चाहिए? 

सीख (Moral): 

एक ईमानदारी का दर्शन बने, क्योंकि हम टूटे वादों की दुनिया में रहते हैं।  

Conclusion:

 Top 2 Best Knowledge Short Story in Hindi |  तो आपको हमारी वेबसाइट Sabse Bhadiya Kahaniya | Short Hindi Storiesकी यह थी ये तीन कहानिया कैसी लगी आशा करती हु आपको पसंद आयी होगी ऐसी हे मजेदार कहानियाँ पढ़ने के लिए हमारे Newsletter को Subscribe करे। 

और पढ़े:

श्री राम और अभागा कुत्ता। Shri Ram ka Justice

Hindi Stories Kids Panchatantra

Best Akbar Birbal Stories in Hindi

1 thought on “Top 2 Best Knowledge Short Story in Hindi”

Leave a Comment